जम्मू और कश्मीर बैंक के प्रबंध निदेशक और मुख्य कार्यकारी अधिकारी, बलदेव प्रकाश ने केंद्रीय मंत्री डॉ जितेंद्र सिंह से मुलाकात की और उन्हें जम्मू-कश्मीर बैंक के लिए परिकल्पित नई पहलों के संदर्भ में जानकारी प्रदान की

जम्मू और कश्मीर बैंक के प्रबंध निदेशक और मुख्य कार्यकारी अधिकारी, श्री बलदेव प्रकाश, जिन्होंने हाल ही में वर्तमान पदभार ग्रहण किया है, केंद्रीय विज्ञान और प्रौद्योगिकी राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार), पृथ्वी विज्ञान राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार), पीएमओ, कार्मिक, लोक शिकायत, पेंशन, परमाणु ऊर्जा और अंतरिक्ष विभाग के राज्य मंत्री डॉ जितेंद्र सिंह से मुलाकात की और उन्हें अपने व्यक्तिगत प्रोफाइल के साथ-साथ जम्मू-कश्मीर बैंक के लिए परिकल्पित की गई नई पहलों के बारे में संक्षिप्त जानकारी प्रदान की।  

उल्लेखनीय है कि बलदेव प्रकाश ने भारतीय स्टेट बैंक की छोटे और बड़ी शाखाओं में विभिन्न भूमिकाओं में बैंकिंग क्षेत्र में 30 वर्षों से ज्यादा का अनुभव प्राप्त किया है और उसके बाद उन्होंने जम्मू-कश्मीर बैंक के एमडी और सीईओ के रूप में अपना वर्तमान कार्यभार संभाला है। इससे पहले, भारतीय रिजर्व बैंक ने तीन वर्ष के लिए जम्मू-कश्मीर बैंक के एमडी और सीईओ के रूप में उनकी नियुक्ति को मंजूरी प्रदान की थी। अपना वर्तमान कार्यभार संभालने से पहले, बलदेव प्रकाश भारतीय स्टेट बैंक, मुंबई में मुख्य महाप्रबंधक (डिजिटल और लेनदेन बैंकिंग विपणन विभाग) थे।

श्री बलदेव प्रकाश को उनकी नई भूमिका में स्वागत करते हुए डॉ जितेंद्र सिंह ने कहा कि जम्मू-कश्मीर बैंक के पास एक समृद्ध विरासत रही है और इसकी स्थापना भारत की स्वतंत्रता से पहले ही की जा चुकी थी। उन्होंने कहा कि इसलिए, बैंक द्वारा बैंकिंग सेवाओं के सम्मान को सर्वोत्तम बनाए रखने के साथ-साथ नागरिकों के हितों का ध्यान उच्चतम पेशेवर मानदंडों के साथ किया जाता है।  

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि हाल के दिनों में जम्मू-कश्मीर बैंक कुछ अवसरों पर गलत कारणों से सुर्खियों में रहा है। उन्होंने कहा कि इसलिए सभी हितधारकों की यह जिम्मेदारी है कि वे मिलकर बैंक की पहले वाली विश्वसनीयता को बहाल करें। उन्होंने कहा कि इस उद्देश्य की प्राप्ति के लिए यह महत्वपूर्ण है कि बैंकिंग अधिकारी खुद उच्चतम सत्यनिष्ठा के साथ व्यवहार करें और साथ ही साथ बाहरी लोग या बाहरी प्रभाव बैंक के कामकाज में हस्तक्षेप का विरोध करें।

डॉ जितेंद्र सिंह ने केंद्र शासित प्रदेश में नई औद्योगिक नीति के कार्यान्वयन को आसान बनाने के लिए जम्मू-कश्मीर बैंक के भूमिका की सराहना की। उन्होंने कहा कि केंद्र शासित प्रदेश में बढ़ते हुए बाहरी निवेश के साथ, बैंक प्रबंधन को अपना सबसे दोस्ताना रूप प्रस्तुत करना होगा, जिससे कि “ईज ऑफ डुईंग बिजनेस” के विश्वास के साथ दूर-दराज के निवेशक यहां पर निवेश करने के लिए प्रोत्साहित हो सकें।

बलदेव प्रकाश ने डॉ जितेंद्र सिंह के प्रति आभार व्यक्त किया। उन्होंने कहा के वे अपनी तरफ से पूरी कोशिश करेंगे और साथ ही उन्होंने मंत्री से अनुरोध किया कि वे समय-समय पर उन्हें अपना मार्गदर्शन और जानकारी प्रदान करते रहें।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *