रात में दूल्हे की मां तो सुबह पिता ने तोड़ा दम… जोधपुर में गैस सिलेंडर ब्लास्ट में अबतक 22 की मौत

राजस्थान के जोधपुर में हुए सिलेंडर ब्लास्ट मामले में मौत का आंकड़ा बढ़कर 22 हो गया है. मंगलवार सुबह चार और लोगों की मौत हो गई है. मरने वालों में दूल्हे का पिता भी शामिल है. इससे पहले सोमवार रात को दूल्हे की मां की मौत हो गई थी. मरने वालों में अधिकतर महिलाएं और बच्चे शामिल हैं. 

दरअसल, बाड़मेर जिले के खोखसर (गिड़ा) निवासी विजयसिंह की सबसे छोटी बेटी ओमकंवर की बारात जोधपुर के शेरगढ़ भूंगरा से आने वाली थी, जहां एक दिन पहले ही सिलेंडर ब्लास्ट के कारण दूल्हा समेत करीब 60 लोग झुलस गए थे. जैसे ही यह खबर दुल्हन के घर तक पहुंची तो शादी खुशियां मातम में तब्दील हो गई.

बताया जा रहा है कि शेरगढ़ के भूंगरा से बारात रवाना होकर गुरुवार शाम 4 बजे बाड़मेर के खोखसर आने वाली थी. करीब साढ़े 3 बजे का वक्त रहा होगा कि दुल्हन के भाई हेमसिंह ने फोन करके पूछना चाहा कि बारात रवाना हुई या नहीं? फोन किया तो किसी बच्चे ने फोन उठाया और फोन में चारों तरफ रोने की आवाज आ रही थी. 

किसी अन्य से बात की तो खबर मिली कि गैस सिलेंडर फटने से दूल्हे के घर में हादसा हो गया है और कई लोग झुलस गए हैं, जो इलाज के लिए अस्पताल ले जाए जा रहे है. ये सब सुनते ही हेमसिंह के पैरो तले जमीन खिसक गई. बारात के स्वागत की हो रही थी तैयारी दुल्हन के भाई हेमसिंह ने बताया कि घर में रस्मों रिवाजों की तैयारी चल रही थी. 

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *