केंद्रीय वित्त मंत्री श्रीमती निर्मला सीतारमण ने ब्रिक्स देशों के वित्त मंत्रियों और केंद्रीय बैंक के गवर्नरों की दूसरी बैठक में भाग लिया

केंद्रीय वित्त और कॉर्पोरेट कार्य मंत्री श्रीमती निर्मला सीतारमण ने आज चीन की अध्यक्षता में दूसरी ब्रिक्स वित्त मंत्रियों और सेंट्रल बैंक गवर्नरों (एफएमसीबीजी) की बैठक में वर्चुअल मोड के माध्यम से भाग लिया। बैठक के एजेंडे में 2022 के लिए ब्रिक्स वित्तीय सहयोग एजेंडा के परिणामों पर चर्चा शामिल थी। इसमें ब्रिक्स के संयुक्त वित्त मंत्रियों और केंद्रीय बैंक के गवर्नरों के बयान, बुनियादी ढांचे में निवेश, न्यू डेवलपमेंट बैंक और ब्रिक्स थिंक टैंक नेटवर्क फॉर फाइनेंस पर चर्चा शामिल थी।
श्रीमती सीतारमण ने कहा कि ब्रिक्स को एक सतत और समावेशी विकास पथ के पुनर्निर्माण के लिए संवादों में शामिल होने और अनुभवों, चिंताओं और विचारों के आदान-प्रदान की सुविधा के लिए एक मंच के रूप में काम करना जारी रखना चाहिए।

भारत के विकास के नजरिए पर अपने संबोधन में वित्त मंत्री ने कहा कि भारत के आर्थिक विकास को वित्तीय खर्च के साथ निवेश को बढ़ावा देने से मदद मिलती रहेगी और सूक्ष्म स्तर पर सभी समावेशी कल्याण के साथ सूक्ष्म स्तर पर विकास के विचार के आधार पर अर्थव्यवस्था को गति मिलना जारी रहेगा।

 ब्रिक्स के वित्त मंत्रियों और केंद्रीय बैंक के गवर्नरों ने बुनियादी ढांचे में निवेश, न्यू डेवलपमेंट बैंक (एनडीबी), ब्रिक्स आकस्मिक रिजर्व व्यवस्था (सीआरए) इत्यादि जैसे अन्य ब्रिक्स वित्त मुद्दों पर भी चर्चा की।

Leave a Comment

Your email address will not be published.

Scroll to Top