श्रीमती सीतारमन व्यय विभाग के प्रशिक्षण मॉड्यूल का शुभारंभ भी करेंगी

केंद्रीय वित्त तथा कंपनी मामले मंत्री श्रीमती निर्मला सीतारमन कल नई दिल्ली में वित्त मंत्रालय के आजादी का अमृत महोत्सव समारोहों के प्रतिष्ठित सप्ताह कार्यक्रमों के दौरान सिंगल नोडल एजेंसी ( एसएनए ) डैशबोर्ड लांच करेंगी।

वित्त तथा कंपनी मामले मंत्रालय के 6 जून से 12 जून 2022 तक चलने वाले प्रतिष्ठित सप्ताह समारोहों को आज प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी द्वारा लांच किया गया था।

केंद्रीय वित्त तथा कंपनी मामले मंत्री श्रीमती निर्मला सीतारमन मुख्य अतिथि होंगी तथा वित्त सचिव डॉ. टी वी सोमनाथन तथा लेखा महानियंत्रक श्रीमती सोनाली सिंह अन्य गणमान्य व्यक्तियों के साथ इस अवसर पर उपस्थित रहेंगी।

इस कार्यक्रम का सीधा प्रसारण एनआईसी के वेबकास्ट प्लेटफॉर्म  (https://webcast.gov.in/finmin/cga) तथा वित्त मंत्रालय के यूट्यूब चैनल (https://youtu.be/VT9p-1Hhhno) पर किया जाएगा।

एसएनए डैशबोर्ड एक प्रमुख सार्वजनिक वित्तीय प्रबंधन सुधार का हिस्सा है जिसे 2021 में केंद्र प्रायोजित योजनाओं ( सीएसएस ) के लिए फंड जारी करने, संवितरितकरने तथा निगरानी करने के तरीके के संबंध में आरंभ किया गया था। इस संशोधित प्रक्रिया, जिसे अब एसएनए मॉडल के रूप् में संदर्भित किया जाता है, के लिए प्रत्येक राज्य को प्रत्येक योजना के लिए एक एसएनए की पहचान करने तथा निर्दिष्ट करने की आवश्यकता होती है। किसी विशेष स्कीम में उस राज्य के लिए सभी फंड इस बैंक खाते में जमा किए जाएंगे तथा सभी व्यय इस खाते से जुड़ी सभी अन्य कार्यान्वयनकारी एजेन्सियों द्वारा किए जाएंगे।

इसलिए, एसएनए मॉडल यह सुनिश्चित करता है कि सीएसएस के लिए राज्यों को फंडों का आवंटन समयबद्ध तरीके से तथा विभिन्न विनिर्देशों को पूरा करने के बाद किया जाए। इस मॉडल का प्रभावी कार्यान्वयन से सीएसएस फंड के उपयोग, फंडों का पता लगाने, राज्यों को व्यवहारिक तथा बिल्कुल सही समय पर फंडों को जारी करने में अधिक दक्षता प्राप्त हुई है और अंततोगत्वा सभी सरकार के बेहतर नकदी प्रबंधन में योगदान दे रहे हैं।

एसएनए मॉडल को योजनायों के प्रचालन में आवश्यक फीडबैक तथा निगरानी टूल देने के लिए, सार्वजनिक वित्तीय प्रबंधन प्रणाली ( पीएफएमएस ) ने एसएनए डैशबोर्ड का विकास किया है। डैशबोर्ड में मंत्रालयों द्वारा विभिन्न राज्यों को की गई रिलीज, राज्य के कोषागारों द्वारा एसएनए खातों को की गई और रिलीजें, बैंकों द्वारा एसएनए खातों में भुगतान किए गए ब्याज आदि को सुगम, सूचनात्मक तथा दिखने में आकर्षक ग्राफिक्स में चित्रित किया गया है।

कर्यक्रम के दौरान ‘ एसएनए तथा ट्रेजरी सिंगल अकाउंट ( टीएसए ) के माध्यम से नकदी प्रबंधन में सर्वोत्तम प्रचलनों ‘ पर भी प्रस्तुतियां की जाएंगी। प्रस्तुतियां संयुक्त लेखा महानियंत्रक, ओडिशा राज्य सरकार तथा कैनरा बैंक द्वारा इस विषय पर उनके अनुभवों को प्रदर्शित करते हुए की जाएंगी।

केंद्रीय वित्त मंत्री व्यय विभाग के प्रशिक्षण मॉड्यूल को भी लांच करेंगी। सुविधा प्रदान करने तथा अधिकारियों की क्षमता का निर्माण करने के उद्वेश्य से दो केंद्रीय प्रशिक्षण संस्थानों अर्थात सरकारी लेखा और वित्त संस्थान ( आईएनजीएफ ) तथा अरुण जेटली राष्ट्रीय वित्तीय प्रबंधन संस्थान ( एजेएनआईएमएफ ) ने डीओपीटी के आईजीओटी कर्मयोगी पोर्टल पर प्रकाशित होने वाले पाठ्यक्रम विकसित किए हैं। आईएनजीएफ ने अवकाशों की विभिन्न स्थितियों, आवेदन करने की प्रक्रिया तथा देया और स्वीकार्य अवकाशों का लाभ उठाने और उनका अनुमोदन, विशेष प्रकार के अवकाशों का वर्णन करने आदि की दिशा में शिक्षार्थियों का ज्ञान बढ़ाने के लिए एफआर एसआर-3 ( अवकाश नियमावली ) पर प्रशिक्षण प्रोग्राम का विकास किया है। एजेएनआईएमएफ द्वारा क्यूरेट किया गया पाठ्यक्रम कार्योंके निष्पादन सहित विभिन्न प्रकार की वस्तुओं तथा सेवाओं की खरीद को पूरा करता है। इससे विभिन्न मंत्रालयों/विभागों के एकीकृत वित्त प्रभागों ( आईएफडी ) में तैनात अधिकारियों को वित्तीय सलाहकारों द्वारा सहमति देने से पूर्व जीएफआर तथा अन्य निर्देशों के आलोक में प्रस्तावों की जांच करने में मदद मिलेगी। शिक्षार्थियों को प्रत्येक मॉड्यूल में परीक्षण के लिए रखा जाएगा जिससे कि वे खुद की जांच कर सकें तथा सीखने पर फिर से बल देने के लिए मॉड्यूल के विशेष भाग पर वापस जा सकें।

Leave a Comment

Your email address will not be published.

Scroll to Top