सामाजिक न्याय और अधिकारिता मंत्री ने सिविल सेवा परीक्षा-2021 में सफल होने वाले दिव्यांग परीक्षार्थियों के साथ बातचीत की


केंद्रीय सामाजिक न्याय और अधिकारिता मंत्री ने आज माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व वाली वर्तमान सरकार के पिछले आठ वर्षों के दौरान सामाजिक न्याय और अधिकारिता मंत्रालय की उपलब्धियों के बारे में जानकारी देने के लिए एक संवाददाता सम्मेलन को संबोधित किया। संवाददाता सम्मेलन के बाद माननीय सामाजिक न्याय और अधिकारिता मंत्री ने चार दिव्यांग उम्मीदवारों से भी बातचीत की, जिन्होंने सिविल सेवा परीक्षा-2021 को सफलतापूर्वक उत्तीर्ण किया है। ये दिव्यांग परीक्षार्थी राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र नई दिल्ली के हैं। इन दिव्यांग अभ्यर्थियों में श्री सम्यक जैन, सुश्री आयुषी, श्री सत्येंद्र सिंह और श्री रिंकू सिंह राही शामिल हैं।

 मंत्री महोदय जी ने इन दिव्यांग परीक्षार्थियों को उनकी उपलब्धियों के लिए शुभकामनाएँ दी। उन्हें यह जानकर बहुत अधिक प्रसन्नता हुई कि इन दिव्यांग परीक्षार्थियों ने अपने जीवन में कई चुनौतियों का सामना करने के बावजूद हार नहीं मानी और अपनी कड़ी मेहनत और लगन से सबसे कठिन परीक्षाओं में से एक में सफलता प्राप्त की। उन्होंने कहा कि ये दिव्यांग अभ्यर्थी आने वाले वर्षों में दूसरे दिव्यांग अभ्यर्थियों को भविष्य में सफलता प्राप्त करने के लिए प्रेरित करेंगे।

दिव्यांग परीक्षार्थियों ने इस उपलब्धि को प्राप्त करने में अपनी यात्रा और संघर्ष को साझा किया। माननीय मंत्री महोदय ने इस बात पर बल दिया कि जीवन के प्रत्येक क्षेत्र में दिव्यांग व्यक्तियों को शामिल करने और समाज की अंतिम पंक्ति के अंतिम व्यक्ति तक पहुंचने के लिए इस सरकार के लक्ष्य के लिए सिविल सेवाओं जैसी शीर्ष सेवाओं में अधिक संख्या में दिव्यांग व्यक्तियों की उपस्थिति महत्वपूर्ण होगी। माननीय मंत्री महोदय ने यह भी आशा व्यक्त की कि वे अन्य दिव्यांग व्यक्तियों के लिए आदर्श भूमिका निभाएंगे और दिव्यांग व्यक्तियों की आवश्यकताओं और संवेदनशीलता के प्रति बड़े पैमाने पर समाज को संवेदनशील बनाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएंगे।

Leave a Comment

Your email address will not be published.

Scroll to Top