पत्तन, पोत परिवहन और जलमार्ग मंत्रालय ने मर्चेंट नेवी में सुचारू तरीके से कार्यान्वयन के उद्देश्य से भारतीय नौसेना से आने वाले अग्निवीरों के लिए छह आकर्षक सेवा अवसरों की घोषणा की

पत्तन, पोत परिवहन और जलमार्ग मंत्रालय (एमओपीएसडब्ल्यू) ने भारतीय नौसेना के साथ अग्निवीरों के कार्यकाल के बाद उन्हें मर्चेंट नेवी की विभिन्न भूमिकाओं में अवसर प्रदान करने लिए छह आकर्षक सेवा योजनाओं की घोषणा की हैं। यह योजना दुनिया भर में पारिश्रमिक मर्चेंट नेवी में शामिल होने के लिए समृद्ध नौसैनिक अनुभव तथा पेशेवर प्रमाणन के साथ ही आवश्यक प्रशिक्षण प्राप्त करने में सक्षम होगी। इन प्रावधानों की घोषणा आज मुंबई में पत्तन, पोत परिवहन और जलमार्ग मंत्रालय के जहाजरानी महानिदेशालय द्वारा की गई।

अग्निवीरों के लिए इन योजनाओं से कई पदों पर नियुक्ति संभव होगी। विशेष तौर पर भारतीय नौसेना से प्राप्त हुई रेटिंग को इसका आधार बनाया जायेगा। इलेक्ट्रिकल रेटिंग से मर्चेंट नेवी में प्रमाणित इलेक्ट्रो तकनीकी में नौकरी और प्रमाणित श्रेणी IV-एनसीवी सीओसी धारकों को नियुक्त करना इसमें शामिल हैं। इसके अलावा कुछ लोग अपनी रेटिंग के आधार  पर रसोईये का काम भी कर सकते हैं। एमओएसपीडब्ल्यू उन अग्निवीरों के लिए इंडोस और सीडीसी जारी करेगा, जो भारतीय नौसेना के माध्यम से उक्त पदों में से किसी एक पर कार्य करने का इरादा रखते हैं। कुछ योजनाएं मैकेनिकल या इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग में डिप्लोमा अथवा इलेक्ट्रॉनिक या इलेक्ट्रिकल स्ट्रीम में आईटीआई ट्रेड सर्टिफिकेट वाले अग्निवीरों के लिए तैयार की गई हैं – खास तौर पर जो इन योग्यताओं के साथ शामिल हो रहे हैं या भारतीय नौसेना के साथ अपने कार्यकाल के दौरान इन्हें प्राप्त कर रहे हैं।

अग्निपथ योजना – भारत के सशस्त्र बलों के आधुनिकीकरण के लिए एक परिवर्तनकारी कदम है। यह भारत के युवाओं के लिए देश की सेवा करने के अवसर पैदा करेगा और साथ ही उन्हें समृद्ध पेशेवर अनुभव तथा प्रशिक्षण प्रदान करेगा, जिससे वे अवसरों का लाभ उठा सकेंगे। मर्चेंट नेवी के माध्यम से वैश्विक एक्सपोजर प्रदान करने के लिए, एमओपीएसडब्ल्यू भारतीय नौसेना के साथ मिलकर अग्निवीरों को प्रशिक्षित और लैस करेगा तथा नौसेना के साथ चार साल के कार्यकाल के बाद उन्हें मर्चेंट पोस्ट में वैकल्पिक करियर बनाने की सुविधा प्रदान करेगा।

इस योजना के बारे में बोलते हुए, केंद्रीय पत्तन, पोत परिवहन और जलमार्ग मंत्री श्री सर्बानंद सोनोवाल ने कहा कि परिवर्तनकारी अग्निपथ योजना के माध्यम से प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी का ही यह एक दूरगामी प्रयास है कि भारतीय सशस्त्र बलों की प्रोफाइल युवा बनी रहे। उनका मानना है कि युवा कर्मी नई तकनीकों के अनुकूल होंगे और हम वैश्विक मर्चेंट नेवी में एक आकर्षक कैरियर को सुरक्षित करने के लिए हमारी विश्व स्तरीय भारतीय नौसेना के साथ अपने कार्यकाल के माध्यम से उन्हें तैयार करेंगे। इन योजनाओं के माध्यम से मर्चेंट नेवी में कुशल श्रम बल के अंतर को पाटने के लिए भारतीय नौसेना के साथ मिलकर काम किया जा रहा है। यह हमारे अग्निवीरों को शिपिंग क्षेत्र में स्थानांतरित करने तथा भारतीय समुद्री अर्थव्यवस्था में अपने समृद्ध कौशल एवं अनुभव के माध्यम से अत्यधिक योगदान देकर मर्चेंट नेवी में एक आकर्षक कैरियर बनाने में मदद करेगा।

भारत विश्व मर्चेंट बेड़े के लिए सबसे बड़े जनशक्ति आपूर्तिकर्ता में से एक है। भारतीय नाविकों को एसटीसीडब्ल्यू कन्वेंशन के अनुसार प्रमाणित किया जाता है और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर उनकी काफी मांग है। योजना इस तरह से तैयार की गई है कि नौवहन क्षेत्र में सुगमता से कार्य जारी रखने के लिए अग्निवीरों को तैयार किया जा सके। एमओपीएसडब्ल्यू और भारतीय नौसेना इस सिलसिले में मिलकर काम करेंगे।

Leave a Comment

Your email address will not be published.

Scroll to Top